डंके की चोट पर फिर अपना ऑफिस बनाएंगी कंगना रनोट, उद्धव ठाकरे को ललकार रोक सको तो रोक लो

gif;base64,R0lGODdhAQABAPAAAMPDwwAAACwAAAAAAQABAAACAkQBADs=

बुधवार को बीएमसी ने अवैध निर्माण का नाम देकर कंगना रनौत के ऑफिस को तोड़ डाला, इससे पहले कंगना रनौत के बंगले पर नोटिस भेजा गया था। जिसका जवाब कंगना रनोट के वकील ने दे दिया। जब इस बात से भी बीएमसी को तसल्ली नहीं हुई तब उसने डिमोलिशन कार्रवाई की, इस पर कंगना रनौत ने मुंबई सरकार उद्धव ठाकरे और बॉलीवुड के दिग्गज निर्देशक करण जोहर पर पलटवार किया। कंगना रनौत अपने घर 9 सितंबर बुधवार को 3:00 बजे मुंबई पहुंची, एयरपोर्ट से सीधा अपने घर के लिए रवाना हुई। लेकिन उससे पहले ही बीएमसी ने कंगना के अंगना को बर्बाद कर दिया था।हालांकि फ़िलहाल बॉम्बे हाई कोर्ट से स्टे मिल गया है और डिमोलिशन को रोक दिया गया है।

अब कंगना चुप रहने वालों में से तो है नहीं सुशांत सिंह राजपूत के केस में विरोध प्रदर्शन और अपनी टिप्पणियां करने से पीछे नहीं रही जिसके चलते वह मुंबई सरकार से भी भिड़ गए उनके कहे एक बयान के कारण यह नौबत आ गई, कंगना रनौत मानना है जिसके साथ जनता है उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। शाम को ट्विटर पर उन्होंने ट्वीट किया जिसमें कहा,’मेरा दफ़्तर 24 घंटों में ही अवैध घोषित कर दिया गया। उन्होंने सब कुछ नेस्तनाबूद कर दिया है। फर्नीचर, लाइट्स भी और अब मुझे धमकियां मिल रही हैं कि वो मेरा घर भी तोड़ देंगे। मुझे ख़ुशी है कि मूवी माफ़िया के पसंदीदा सीएम को लेकर मेरा फ़ैसला सही था।आओ उद्धव ठाकरे और करण जौहर गैंग, तुमने मेरा वर्क प्लेस तोड़ दिया। अब मेरा घर तोड़ दो। फिर मेरा चेहरा और शरीर भी तोड़ दो। मैं चाहती हूं कि दुनिया देखे कि पर्दे के पीछे तुम लोग क्या करते हो। मैं मरूं या ज़िंदा रहूं, मैं तुम्हें बेपर्दा पर दूंगी। यह ट्वीट इतना तेजी से वायरल हो रहा है लोग अपनी अपनी टिप्पणी इस पर दे रहे हैं कई लोग सरकार के साथ हैं तो कोई कंगना के साथ।

कंगना ने यह भी कहा आज मेरा घर टूटा है कल आपका टूटेगा समय का पहिया है,

कंगना रनौत के ऑफिस को लेकर जिस तरीके की बातें चल रही हैं उसके चलते उनके बंगले का भी जांच पड़ताल चालू होगी।इस हादसे के बाद कई बॉलीवुड कलाकार कंगना रनौत के साथ खड़े हुए जैसे अनुपम खेर दीया मिर्जा इन लोगों ने अपनी सोशल मीडिया के जरिए विचारों को प्रकट किया और मुंबई सरकार की निंदा की।